Computer Network in Hindi | Computer Network क्या है?

आज के समय में कंप्यूटर का उपयोग बहुत ही आम हो चुका है और कंप्यूटर हमारे जीवन का सबसे अहम हिस्सा बन चुका है जो हमारे कार्य को सरल करने में हमारी मदद करता है। आप कंप्यूटर के बारे में बहुत सी बातें जानते होंगे परंतु क्या आप जानते हैं कंप्यूटर नेटवर्क क्या है? कंप्यूटर नेटवर्क क्या होता है? और यह किस प्रकार से कार्य करता है आज के इस आर्टिकल में हम Computer Network in Hindi के बारे में पढ़ेंगे और समझेंगे।

Computer network in hindi
Computer network in Hindi

कंप्यूटर नेटवर्क के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको कंप्यूटर नेटवर्क के बारे में जानने के लिए कहीं और सर्च करने की आवश्यकता नहीं होगी तो चलिए समझते हैं कंप्यूटर नेटवर्क के बारे में।

Computer Network in Hindi (कंप्यूटर नेटवर्क क्या होता है?)

ऐसे कंप्यूटर जो आपस में परस्पर दो अथवा दो से अधिक कंप्यूटरों से किसी डिजिटल उपकरणों की सहायता से जुड़े होते हैं उसे कंप्यूटर नेटवर्क कहा जाता है। यह सभी कंप्यूटर आपस में केबल अथवा इंटरनेट की मदद से जुड़े होते हैं जिससे कि पूरा एक नेटवर्क बन जाता है। यह सभी कंप्यूटर आपस में एक दूसरे के साथ डाटा को शेयर कर सकते हैं इसी तकनीक को कंप्यूटर नेटवर्क कहा जाता है। 

आमतौर पर कंप्यूटर को कंप्यूटर से आपस में जोड़ने के लिए केबल का प्रयोग किया जाता है और इसके के लिए ऑप्टिकल फाइबर केबल या फिर इथरनेट केबल का उपयोग किया जाता है। इस बड़ती हुई टेक्नोलॉजी के समय में वायरलेस कंप्यूटर नेटवर्क भी होते हैं जिनको Radio Waves के माध्यम से आपस में जोड़ा जाता है।

आपस में जुड़े सभी कंप्यूटर के द्वारा नेटवर्क रिसोर्सेस शेयर किया जाता है जैसे कि इंटरनेट, स्कैनर, प्रिंटर, फाइल सर्वर, सॉफ्टवेयर इत्यादि। 

साधारण भाषा में समझे  तो कई सारे कंप्यूटर का ऐसा समूह जो किसी माध्यम से आपस में जुड़ा हुआ होता है और आपस में रिसोर्स शेयर करता है कंप्यूटर नेटवर्क कहलाता है।

Difference Between Network And Networking In Hindi

जब कई सारे विभिन्न प्रकार के कंप्यूटर अथवा मशीन को आपस में किसी माध्यम से जोड़ा जाता है जो कि डाटा और रिसोर्ट को आपस में साझा कर सकते हैं तो यह नेटवर्क कहलाता है। 

जब किसी कंप्यूटर को अन्य किसी कंप्यूटर के साथ किसी माध्यम के द्वारा जोड़ा जाता है तो इस प्रक्रिया को नेटवर्किंग कहा जाता है।

कंप्यूटर नेटवर्क के प्रमुख अंग

  • कंप्यूटर
  • टर्मिनल
  • केबल
  • हब 
  • दूरसंचार प्रोसेसर
  • दूरसंचार सॉफ्टवेयर
  • दूरसंचार चैनल और माध्यम

कंप्यूटर

कंप्यूटर नेटवर्क बनाने के लिए हमें सबसे पहले जिसकी आवश्यकता होती है वह है कई सारे कंप्यूटर, जी हां दोस्तों क्योंकि कंप्यूटर नेटवर्क बनाने के लिए हमें कई सारे कंप्यूटर्स को आपस में जोड़ना पड़ता है जिसके लिए नेटवर्क में कई सारे कंप्यूटर की आवश्यकता होती है।

टर्मिनल

कंप्यूटर नेटवर्क में दूसरा सबसे महत्वपूर्ण भाग टर्मिनल होता है इसकी मदद से कंप्यूटर नेटवर्क  स्थापना होती है।

केबल

कंप्यूटर नेटवर्क बनाने के लिए केबल की आवश्यकता होती है जो कि 2 तारों से बनी हुई होती है इसका का प्रयोग नेटवर्क बनाने में किया जाता है। इसमें फाइबर ऑप्टिक केबल या फिर इथरनेट केबल का उपयोग किया जाता है। फाइबर ऑप्टिक केबल धातु के तारों की अपेक्षा कम संवेदनशील होती है, और फाइबर ऑप्टिक केबल धातु के तारों से पतले और बहुत हल्के भी होते हैं इसका मुख्यता उपयोग कंप्यूटर के लिए डाटा को ट्रांसफर करने के लिए किया जाता है।

हब

हब एक नेटवर्किंग डिवाइस होता है जो कि संकेत को स्रोत से प्राप्त करता है और इसको आगे प्रोसेस करता है यह संकेतों को अपने गंतव्य या फिर दूसरे कंप्यूटर तक भेजने का कार्य करता है। आपने हब शब्द का प्रयोग कई बार सुना होगा इसका प्रयोग कंप्यूटर में कई जगह किया जाता है।

दूरसंचार प्रोसेसर

कंप्यूटर नेटवर्क बनाने के लिए दूरसंचार प्रोसेसर की भी आवश्यकता होती है ताकि सभी कंप्यूटर आपस में कम्युनिकेट कर सके और किसी भी जानकारी को दूरसंचार प्रोसेसर की मदद से साझा कर सकें।

दूरसंचार सॉफ्टवेयर

कंप्यूटर नेटवर्क बनाने की इस प्रक्रिया में दूरसंचार सॉफ्टवेयर की भी आवश्यकता होती है और यह इसका एक महत्वपूर्ण भाग होता है क्योंकि सॉफ्टवेयर के बिना किसी भी कंप्यूटर अथवा नेटवर्क की स्थापना नहीं हो पाती है इसलिए दूरसंचार सॉफ्टवेयर कंप्यूटर नेटवर्क में सबसे महत्वपूर्ण अंग में से एक है।

दूरसंचार चैनल और माध्यम

कंप्यूटर नेटवर्क बनाने के लिए माध्यम की भी आवश्यकता होती है जिससे सभी कंप्यूटर को आपस में जोड़ा अथवा कनेक्ट किया सकता है।

Types Of Computer Network In Hindi

अभी तक आप समझ गए होंगे कि नेटवर्क क्या होता है और नेटवर्क के मूल अंग कौन से होते हैं अब हम बात कर लेते हैं Type Of Network अर्थात नेटवर्क के प्रकार के बारे में, कंप्यूटर नेटवर्क कितने प्रकार के होते हैं इसके बारे में आपको निम्नलिखित महत्वपूर्ण जानकारी दी गई है कंप्यूटर नेटवर्क को हम चार भागों में विभाजित कर सकते हैं।

Untitled design 13
  • PAN ( Personal area network)
  • LAN (local area network)
  • MAN (metropolitan Area Network)
  • WAN(wide area network)

PAN ( Personal area network)

पर्सनल एरिया नेटवर्क शब्द का प्रयोग सबसे पहले Thomas Zimmerman ने किया था पर्सनल एरिया नेटवर्क का उपयोग कंप्यूटर को इंटरनेट से कनेक्ट करने के लिए किया जाता है पर्सनल एरिया नेटवर्क को दो प्रकार से विभाजित किया जा सकता है।

Wired personal area network

Wired personal area network में कंप्यूटर को USB के द्वारा इंटरनेट से कनेक्ट किया जाता है।

Wireless personal area network

वायरलेस पर्सनल एरिया नेटवर्क में कंप्यूटर को वाईफाई, ब्लूटूथ जैसी Wireless टेक्नोलॉजी के द्वारा कनेक्ट किया जाता है यह एक शॉर्ट रेंज एरिया नेटवर्क होता है। मोबाइल का हॉटस्पॉट पर्सनल एरिया नेटवर्क के अंतर्गत आता है। इस नेटवर्क को अपने घर के अंदर भी स्थापित किया जा सकता है।

नेटवर्क के द्वारा कंप्यूटर, प्रिंटर, टेलीविजन जैसे डिवाइस को आपस में कनेक्ट किया जा सकता है।

LAN (local area network)

LAN का पूरा नाम लोकल एरिया नेटवर्क होता है इस नेटवर्क में दो अथवा दो से अधिक कंप्यूटर को आपस में जोड़ा जा सकता है। यह एक स्थानीय स्तर पर कार्य करने वाला नेटवर्क होता है जोकि LAN के नाम से जाना जाता है। यह नेटवर्क एक बिल्डिंग अथवा कमरे तक ही सीमित रहता है इसमें डाटा पूरी तरह से सुरक्षित रहता है। इस नेटवर्क में डाटा ट्रांसफर स्पीड भी अधिक होती है।

MAN (metropolitan Area Network)

MAN का पूरा नाम metropolitan Area Network होता है इस नेटवर्क की गति बहुत अधिक होती है इसकी गति लगभग 200 MBPS तक होती है। इस नेटवर्क के अंतर्गत कई सारे लोकल एरिया नेटवर्क जुड़े हुए होते हैं यह शहर की सीमाओं के भीतर स्थित एक कंप्यूटर नेटवर्क होता है। इस नेटवर्क का प्रयोग बहुत अधिक क्षेत्र में किया जाता है और यह लगभग 75 किलोमीटर तक फैला रहता है।

WAN(wide area network)

WAN का पूरा नाम wide area network होता है, क्षेत्रफल के हिसाब से यह बहुत बड़ा नेटवर्क होता है यह ना सिर्फ एक बिल्डिंग और शहर तक सीमित रहता बल्कि यह पूरे देश और विश्व में इंटरनेट प्रोवाइड करने का कार्य करता है यह सबसे बड़ा नेटवर्क होता है जिसके द्वारा डाटा को आसानी से बहुत अधिक रेंज तक शेयर किया जा सकता है। यह पूरी तरह से फास्ट नेटवर्क होता है इसकी मदद से हम पूरी दुनिया में डाटा ट्रांसफर कर सकते हैं इसमें डाटा को सेटेलाइट के माध्यम से भेजा जाता है।

Need of Computer Network in Hindi

आज के समय में कंप्यूटर नेटवर्क मानव जीवन की सबसे महत्वपूर्ण इकाई में से एक है और इसकी आवश्यकता हमें प्रत्येक दूसरे कार्य के लिए होती है कंप्यूटर नेटवर्क की आवश्यकता के बारे में आपको निम्नलिखित जानकारी दी गई है।

  • To Share Computer Files (कंप्यूटर फाइलों को शेयर करने के लिए)
  • To share Hardware Device (हार्डवेयर डिवाइस को शेयर करने के लिए)
  • Internet access (इंटरनेट एक्सेस)
  • Application sharing (एप्लीकेशन को शेयर करने के लिए)
  • E-Commerce (ई-कॉमर्स)
  • Communication (कम्युनिकेशन के लिए)
  • Entertainment (मनोरंजन के लिए)
  • Gaming (गेम खेलने के लिए)
  • mprove Communication Speed & Accuracy
  • Voice over IP
  • Resource sharing (रिसोर्स को शेयर करने किए)
  • डेटा ट्रांसफर की कीमत को कम करने के लिए

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने समझा कि कंप्यूटर नेटवर्क क्या है? कंप्यूटर नेटवर्क के प्रकार कौन-कौन से हैं और कंप्यूटर नेटवर्क के प्रमुख अंग कौन से हैं। दोस्तों आशा करता हूं कि कंप्यूटर नेटवर्क के बारे में यह जानकारी आपको पसंद आई होगी और कंप्यूटर नेटवर्क से संबंधित सभी सवालों के जवाब आपको मिल गए होंगे यदि आपको इस टॉपिक से संबंधित कोई भी सवाल है तो आप हमें कमेंट में पूछ सकते हैं। यदि आपको यह जानकारी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें।

ये भी पढ़े –

FAQ

नेटवर्क कितने प्रकार के होते हैं?

कंप्यूटर नेटवर्क चार प्रकार के होते हैं-
1. PAN ( Personal area network)
2. LAN (local area network)
3. MAN (metropolitan Area Network)
4. WAN(wide area network)

कंप्यूटर नेटवर्क क्या है इसके प्रकार बताइए?

ऐसे कंप्यूटर जो आपस में परस्पर दो अथवा दो से अधिक कंप्यूटरों से किसी डिजिटल उपकरणों की सहायता से जुड़े होते हैं उसे कंप्यूटर नेटवर्क कहा जाता है। यह चार प्रकार के होते है- PAN, LAN, MAN, WAN.

कंप्यूटर नेटवर्क कैसे बनता है?

कंप्यूटर को कंप्यूटर से आपस में जोड़ने के लिए केबल का प्रयोग किया जाता है और इसके के लिए ऑप्टिकल फाइबर केबल या फिर इथरनेट केबल का उपयोग किया जाता है। किसी कंप्यूटर को अन्य किसी कंप्यूटर के साथ किसी माध्यम के द्वारा जोड़ा जाता है तो इस प्रक्रिया को नेटवर्किंग कहा जाता है।

इंटरनेट का पुराना नाम क्या है?

इंटरनेट का पुराना नाम ARPANET (Advanced Research Projects Agency Network) है जिसको 1969 में U.S Defense के द्वारा बनाया गया था।

Sharing Is Caring:

Leave a comment