Chat GPT क्या है? यह कैसे कार्य करता है? Chat GPT By Open AI

Chat GPT Kya Hai In Hindi : आज के समय में इंटरनेट की दुनिया में एक शब्द का बहुत ज्यादा ट्रेंड कर रहा है Chat GPT क्या है? जी हां दोस्तों 23 नवंबर 2022 को Chat GPT  के लॉन्च होने के बाद से ही इंटरनेट पर लोगों के लिए यह चर्चा का विषय बन चुका है। 

इंटरनेट पर लोग सर्च कर रहे है और जानना चाहते हैं कि आखिर चैट जीपीटी क्या है? और यह किस प्रकार से कार्य करता है कई विशेषगयों का कहना है की Chat GPT गूगल को टक्कर देने के लिए लांच किया गया है और कुछ लोगों का कहना है कि चैट जीपीटी गूगल को रिप्लेस भी कर सकता है। 

Chat GPT क्या है

आज हर कोई चैट जीपीटी के बारे में जानना चाहता है यदि आप भी जानना चाहते हैं कि Chat GPT आखिर क्या है और इसे किस लिए लांच किया गया और इसका क्या कार्य है? तो आप इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें आपको इस आर्टिकल में चैट जीपीटी से संबंधित संपूर्ण जानकारी।

Name:chat GPT 
Release:  30 November 2022
License:  proprietey
Type:Artificial intelligence chatbot  
Ceo:Sam Altman
Original author:   OpenAI
Official Websitechat.openai.com

चैट जीपीटी क्या है? (What is Chat GPT)

Chat GPT को 23 नवंबर 2022 को OpenAi (Open artificial intelligence) के द्वारा लॉन्च किया गया था Chat GPT, GPT 3.5 पर बना है जो कि GPT 3.0 का Upgraded Version है।   

Chat GPT एक प्रकार का Chat Bot है जो कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से आपके द्वारा की गई Query के जवाब लिखकर देता है, यह machine learning Modal पर आधारित है।

Chat GPT के बारे में साधारण भाषा में समझे तो चैट जीपीटी आपके प्रश्नों के उत्तर देने के लिए बनाया गया है। जिस प्रकार से आप गूगल पर अपना कोई प्रश्न सर्च करते हैं तब गूगल आपके प्रश्न के हिसाब से आपको वेबसाइट के लिंक देता है जिसमें आप अपने प्रश्नों के उत्तर की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं परंतु चैट जीपीडी आपको किसी भी वेबसाइट का लिंक दिए बिना सीधे आपका उत्तर आपको देता है।

जिसे पढ़कर आप उस प्रश्न के उत्तर के बारे में समझ सकते हैं। अभी के समय में चैट जीपीटी को सिर्फ अंग्रेजी भाषा में ही लांच किया गया है यदि आप चैट जीपीटी का उपयोग करना चाहते हैं तो आपको अंग्रेजी भाषा में ही प्रश्न करने होंगे हालांकि धीरे-धीरे अपडेट के बाद इसमें कई अन्य भाषाओं को भी जोड़ा जाएगा। 

Chat GPT के द्वारा आप जो भी प्रश्न पूछते हैं उन प्रश्नों का उत्तर Chat GPT आपको लिखकर विस्तार पूर्वक देता है, अभी के समय में इसके यूज़र्स  की संख्या लगभग 2 मिलियन के करीब हो चुकी है और लगातार इसके यूजर्स में इजाफा देखने को मिल रहा है।

History of Chat GPT (चैट जीपीटी का इतिहास)

Chat GPT की शुरुआत 2015 में Sam Altman ने Elon Musk के साथ मिलकर की थी, जब इस कंपनी की शुरुआत की गई थी तब वह एक Non-Profit कंपनी थी परंतु इसके कुछ साल के पश्चात ही एलोन मस्क ने इस प्रोजेक्ट को बीच में ही छोड़ दिया। 

जिसके बाद बिलगेट्स की कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के द्वारा इसमे इन्वेस्टमेंट किया गया और साल 2022 में 23 नवंबर को एक प्रोटोटाइप के तौर पर इसको लांच किया गया OpenAi के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफीसर अल्टमैन के अनुसार इसके अभी तक 2 मिलियन से अधिक यूजर्स हो चुके हैं और लगातार वृद्धि होती जा रही है।

Full Form of Chat GPT (चैट जीपीटी का फुल फॉर्म)

Chat GPT का फूल फॉर्म Chat Generative Pre – Trained Transformer है। जब आप गूगल पर कुछ सर्च करते हैं तो गूगल उस Query से संबंधित आपको वेबसाइट के लिंक देता है जिस पर आपकी गौरी से संबंधित जानकारी होती है परंतु इसके अलग चैट जीपीटी सीधे तौर पर आपको आपकी Query से संबंधित जवाब देता है।

How Chat GPT works? (चैट जीपीटी कैसे काम करता है?)

अब बात कर लेते हैं आखिर चैट जीपीटी कैसे कार्य करता है, Chat GPT ऑफिशियल वेबसाइट पर भी आपको इसके बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी मिल जाएगी दरअसल इस Chat Bot को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के माध्यम से बनाया गया है। 

इसमें बहुत सारे प्रश्नों कीवर्ड्स को ऐड किया गया है जिसकी मदद से यह उन सभी प्रश्नों के जवाब आपको दे सकता है जो उसमे सेव किये गए हैं। चैट जीपीटी में बहुत ही एडवांस आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है।

आपकी Quary को टेक्स्ट की मदद से पढ़ सकता है जिसके बाद अपने कंप्यूटर के डेटाबेस में उन प्रश्नों के उत्तर सर्च करके प्रश्नों से संबंधित उत्तर आपको प्रदान करता है और यह सभी प्रोसेस कुछ ही सेकंड में हो जाती है।

Special Features of Chat GPT (चैट जीपीटी की विशेषताएं)

अब बात कर लेते हैं Chat GPT की विशेषताओं के बारे में आखिर Chat GPT की प्रमुख विशेषताएं क्या है और यह कैसे आपकी मदद कर सकता है –

  • चैट जीपीटी का प्रयोग अपने प्रश्नों के उत्तर जानने के लिए किया जा सकता है।
  • इसका प्रयोग कंटेंट को तैयार करने के लिए किया जा सकता है।
  • Chat GPT एक ओपन सोर्स सिस्टम है इसका प्रयोग करने के लिए किसी भी यूज़र से पैसे नहीं लिए जाएंगे यह सभी यूजर्स के लिए सभी सुविधाएं फ्री में प्रदान करता है।
  • इसकी मदद से आप निबंध, एप्लीकेशन और बायोग्राफी जैसी कंटेंट भी लिख सकते हैं।
  • अभी के समय में आप इसका इस्तेमाल बिना पैसे दिए एकदम फ्री में कर सकते हैं।

चैट जीपीटी का इस्तेमाल कैसे करें? (How to use Chat GPT)

यदि आप चैट जीटी का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर अपना एक एकाउंट बनाना होगा जिसके बाद आप इसका प्रयोग बिल्कुल फ्री में कर पाएंगे वर्तमान समय में इस पर किसी भी प्रकार का कोई भी चार्ज नहीं लिया जा रहा है Chat GPT का एकाउंट बनाने और इस्तेमाल करने के लिए आप निम्नलिखित स्टेप को फॉलो कर सकते हैं-

  • सबसे पहले आप Chat GPT की ऑफिशियल वेबसाइट OpenAi.com को ओपन करें जहां पर आप को Chat GPT का ऑप्शन मिलेगा उस पर क्लिक करें।
  • इसके बाद इस वेबसाइट पर ईमेल आईडी के द्वारा अपना एक एकाउंट बनाएं और लॉगिन करें।
  • इस वेबसाइट पर अकाउंट बनाने के लिए आपको Continue with Google का ऑप्शन भी मिलेगा आप उस पर क्लिक करके डायरेक्ट अपना एकाउंट बना सकते हैं और लॉगिन कर सकते हैं।
  • उसके बाद आपको आपका नाम और फोन नंबर डालने के लिए बोला जाएगा वहां पर अपनी जानकारी भरें और Continue पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपके नंबर पर एक OTP भेजा जाएगा जिसको बॉक्स में डालकर वेरीफाई पर क्लिक करें।
  • फोन नंबर वेरीफाई होने के बाद आपका एकाउंट पूरी तरह से कंप्लीट हो चुका है इसके बाद आप अपने अकाउंट का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक बॉक्स मिलेगा जिसमें आप अपना प्रश्न डाल कर सबमिट कर सकते हैं जिसका उत्तर सर्च करने के बाद Chat GPT के द्वारा आपके कंप्यूटर पर दिखाई दिया जाएगा।

Difference between Chat GPT And Google 

दोस्तों अब बात कर लेते हैं Chat GPT और गूगल के बीच में अंतर के बारे में जी हां दोस्तों क्योंकि गूगल और Chat GPT में जमीन और आसमान का फर्क है गूगल अभी के समय में दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी है जिसका इस्तेमाल यूजर्स हर किसी कार्य के लिए करते हैं जैसे किसी को ईमेल भेजना, इंटरनेट पर सर्चिंग करना, मैप देखना, जानकारी निकालना इत्यादि परंतु Chat GPT OpenAi कंपनी द्वारा बनाया गया एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस Bot है जो कि आपके द्वारा किए गए प्रश्नों के उत्तर देता है।

उदाहरण के लिए समझते हैं यदि आप इसे गाय पर निबंध लिखने के लिए बोलते हैं तो यह उसी की तरह से देखने वाले जानवरों पर कई सारे निबंध लिखता है और उसके बाद जो भी निबंध गाय से मिलते जुलते पाया जाता है यह आपको दिखाता है इसमें बिल्कुल एक्यूरेट डाटा नहीं होता है।

जब भी आप इसे कोई प्रश्न करते हैं और यह उससे संबंधित मिलता-जुलता जवाब आपको देता है इससे इसका कार्य पूर्ण हो जाता है वह डाटा बिल्कुल सटीक है या नहीं यह इस पर बहुत ज्यादा रिसर्च नहीं करता है परंतु Google एक बहुत बड़ी कंपनी है जो कि अपनी यूजर्स को गलत डाटा नहीं दे सकता है।

इसलिए गूगल किसी भी डाटा की Accuracy को देखते हुए आपको रिजल्ट दिखाता है। इसलिए Chat GPT तथा गूगल में तुलना करना बिल्कुल भी सही नहीं है।

क्या Chat GPT गूगल को Replace कर सकता है?

दोस्तों कुछ लोगों का कहना है कि क्या चैट जीपीटी गूगल को रिप्लेस कर सकता है या नहीं! तो आपको बता दें कि जैसा कि हम अभी आर्टिकल में आपको बता चुके हैं कि गूगल एक Established और बहुत बड़ी कंपनी है जिस के data पर करोड़ों यूजर्स निर्भर करते हैं और गूगल द्वारा दिए गए डाटा को सही मानते हैं क्योंकि वह बहुत सटीक होता है परंतु चैट जीपीडी द्वारा दिया गया डाटा बिल्कुल सही हो भी सकता है और नहीं भी हो सकता है।

लोग इसके डाटा को बिल्कुल सही नहीं मान सकते हैं जब तक कि वह पूरी तरह से चेक ना कर ले। यह एक स्टार्टअप है जो कि आपके छोटे-छोटे कार्य करने के लिए प्रयोग में लाया जा सकता है परंतु गूगल के साथ इसका अभी कोई मुकाबला नहीं किया जा सकता है। 

अब सवाल आता है क्या गूगल के पास ऐसी टेक्नोलॉजी मौजूद है या नहीं तो इसका जवाब यह है कि गूगल की पास इससे भी अच्छी टेक्नोलॉजी होने के बावजूद गूगल उसे लॉन्च नहीं कर सकता है क्योंकि यदि डाटा बिल्कुल सटीक नहीं पाया जाता है तो उसमें गूगल के यूज़र्स का गूगल से भरोसा खत्म हो सकता है जिससे गूगल को बहुत बड़ा नुकसान भी हो सकता है।

इसलिए गूगल इससे भी अच्छी टेक्नोलॉजी के होने के बावजूद इस टेक्नोलॉजी को लोगों के लिए लांच नहीं कर रहा है। इन सब से बातों से आप समझ ही गए होंगे कि गूगल को रिप्लेस करना किसी भी कंपनी के लिए कोई छोटी बात नहीं है और Chat GPT Google को कभी भी रिप्लेस नहीं कर सकता है।

Benefits of Chat GPT (चैट जीपीटी के फायदे)

चैट जीपीडी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर आधारित एक चैट वोट है जिसके कई सारे फायदे हैं जिनमें से कुछ फायदे निम्नलिखित दिए गए हैं –

  • यूजर्स के लिए इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि जब कोई यूजर इससे कोई प्रश्न करता है तो यह वेबसाइट के लिंक नहीं देता है वह प्रश्न का डायरेक्ट उत्तर देता है जो कि यूजर के टाइम को बचाता है।
  • Chat GPT से प्रश्न करने के बाद यह यूजर को तुरंत ही संपूर्ण जानकारी विस्तार पूर्वक देता है।
  • जब Chat GPT आपको जानकारी देता है यदि आप उससे संतुष्ट नहीं है तो वह विस्तार पूर्वक और अधिक जानकारी आपको प्रदान करता है।
  • यदि आप इस के रिजल्ट से संतुष्ट नहीं होते हैं तो यह लगातार अपने रिजल्ट अपडेट करके जानकारी और अधिक विस्तार पूर्वक देता है जिससे कि यह आप को संतुष्ट कर सके।
  • यह यूजर्स के लिए पूरी तरह से फ्री है इसके लिए यूजर्स को किसी भी तरह का कोई भी चार्ज नहीं देना है।

Cons of Chat GPT (चैट जीपीटी के नुकसान)

अभी हमने ऊपर Chat GPT के फायदे के बारे में जाना अब इसके नुकसान के बारे में भी जान लेते हैं कि इसके कौन-कौन से नुकसान देखने को मिल सकते हैं-

  • अभी के समय में इसका सबसे बड़ा नुकसान यह है कि वर्तमान समय में इस पर सिर्फ इंग्लिश और हिंदी भाषा को सपोर्ट किया जा रहा है इसके अलावा किसी भी भाषा का अभी तक इसमें सपोर्ट नहीं मिल रहा है जो कि अन्य यूजर्स के लिए काफी बड़ा डिसएडवांटेज है।
  • यह आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से प्रश्नों को खोजता है तथा इसके डेटाबेस में जो प्रश्न नहीं होते हैं उसका उत्तर नहीं दे पाता है।
  • यह सिर्फ उन प्रश्नों का उत्तर दे सकता है जो इसके डेटाबेस में सेव किए गए हैं।
  • इस AI वोट की ट्रेनिंग 2022 के शुरुआत में ही पूरी हो चुकी थी जिस कारण से हो सकता है कि 2022 के शुरुआत के बाद के प्रश्नों के उत्तर इसके पास ना मिले।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने जाना किस चैप्टर जीपीडी क्या है चैट जीपदी कैसे कार्य कर सकता है और गूगल के मुकाबले है कितना कारगर है इसके अलावा आपको चैट जीपीडी के फायदे और नुकसान के बारे में अभी इस आर्टिकल में जानकारी मिल जाएगी।

आशा करता हूं कि इस आर्टिकल में दी गई चैट जीपीडी के बारे में जानकारी आपको पसंद आई होगी यदि आपको दी गई यह जानकारी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें और इसी तरह की महत्वपूर्ण जानकारी के लिए नोटिफिकेशन बेल को जरूर सब्सक्राइब करें।

ये भी पढ़े –

FAQ

Chat GPT का फुल फॉर्म क्या है?

Chat Generative Pre-Trained Transformer, Chat GPT का फुल फॉर्म है।

चैट जीपीटी की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

chat.openai.com

Chat GPT कब लॉन्च किया गया है?

Chat GPT को 30 नवंबर 2022 को लांच किया गया है।

चैट जीपीटी कौन सी भाषा में लांच हुआ?

Chat GPT की भाषा हिंदी और अंग्रेजी है।

Sharing Is Caring:

Leave a comment