Advertisements

क्रिप्टोकरेंसी क्रैश, Bitcoin समेत दुनिया के Top Crypto Currency के प्राइस गिरे

दोस्तों क्रिप्टकरेंसी मार्केट एक हाई risky मार्केट है हम इस आर्टिकल में क्रिप्टोकरेंसी क्रैश के बारे में चर्चा करने वाले हैं, इसमे कब किस कॉइन का प्राइस बहुत अधिक बढ़ जाये और किस कॉइन का प्राइस बहुत कम हो जाये कुछ कहा नहीं जा सकता है। क्रिप्टकरेंसी की बात की जाये तो यह सबसे पहली करेंसी है जो कि वर्ल्ड वाइड लेबल पर उपयोग में लाई जा सकती है।

क्योंकि यह करेंसी decentralized system पर कार्य करती है तो इसका उपयोग काफी आसान भी हो गया है। यह ऐसी करेंसी है जिसने दुनिया में बहुत तेजी से अपनी अलग पहचान बनाई है और बहुत सारी क्रिप्टकरेंसी में बहुत अधिक उछाल देखने को भी मिले है परन्तु 2021 क्रिप्टकरेंसी के लिये काफी बुरा बर्ष साबित हुआ है।

Top Crypto currency Prince Down
Crypto currency Prince Drop
Advertisements

2021 में बहुत सी क्रिप्टकरेंसी में उतार चढ़ाव देखने को मिले है और अब 2022 की सुरुआत भी क्रिप्टकरेंसी के लिए अच्छी नहीं रही है क्योंकि साल के सुरु में ही बहुत सारी क्रिप्टकरेंसी के प्राइस काफी नीचे आ चुके हैं।

किन क्रिप्टकरेंसी की कीमत में हुई गिरावट

क्रिप्टकरेंसी की बात करे तो 2022 की भी क्रिप्टकरेंसी के लिए काफी खराब सुरुआत के लिए देखा जा रहा है क्योंकि जनवरी में ही बहुत सारे क्रिप्टकरेंसी जैसे- बिटकॉइन, एथेरियम, लाइटकॉइन, डोजकोइन, बिटकॉइन कैश, बिनांस क्वाइन आदि में काफी गिरावट देखने को मिली है। जनवरी 2022 में ही क्रिप्टकरेंसी में 20 से 45 प्रतिशत गिरावट देखने को मिली है और crypto मार्केट धीरे धीरे और भी नीचे गिरता जा रहा है।

क्रिप्टकरेंसी की कीमत में हुई कितनी गिरावट

दोस्तों अगर हम बात करे कि कौन सी क्रिप्टकरेंसी में कितनी गिरावट हुई हैं तो सबसे पहले हम सबसे फेमस Crypto Currency Bitcoin की बात करते है, Bitcoin में हुई गिरावट आल टाइम हाई प्राइस से लगभग 46 प्रतिशत तक गिर चुका है। नबम्बर 2021 में बिटकॉइन अपने टॉप पर था उसके बाद बिटकॉइन का प्राइस लगातार गिरता ही जा रहा है जनवरी 2022 तक यह 46 प्रतिशत तक नीचे आ चुका है।

इसके बाद एथेरियम कि बात करे तो इसका भी लगभग 40 से 45 प्रतिशत तक प्राइस गिर चुका है इसका आल टाइम हाई प्राइस नबम्बर 2021 में 3 लाख 84 हजार रुपये से भी अधिक था जो कि जनवरी 2022 तक 2 लाख रुपये तक आ चुका है।

अब बात करे लाइटकॉइन क्रिप्टकरेंसी की तो इसका आल टाइम हाई प्राइस मई 2021 में 31000 रुपये से भी अधिक था जिसके बाद इसमे काफी उतार चढ़ाव देखने को मिले और नबम्बर 2021 के बाद इसके प्राइस में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है और जनवरी 2022 में इसका प्राइस 9000 रुपये से भी कम आ चुका है।

दोस्तों डोजकॉइन भी मई 2021 में अपने आल टाइम हाई प्राइस 50 रुपये से भी अधिक पर था परंतु उसके बाद इसका प्राइस लगातार गिरता जा रहा है और जनवरी 2022 आने तक इसका प्राइस 10 रुपये तक आ चुका है।

यदि हम बात करे बिटकॉइन कैश की तो यह कॉइन भी मई 2021 में 1 लाख 16 हजार रुपये से भी अधिक कीमत के साथ अपने आल टाइम हाई प्राइस पर था जिसके बाद इसकी कीमत में भी लगातार भारी गिरावट देखने को मिली है जिसके कारण बिटकॉइन कैश की जनवरी 2022 में कीमत 23 हजार रुपए तक आ चुकी है।

दोस्तों यदि हम बिनांस क्वाइन की बात करे तो यह नबम्बर 2021 में अपने आल टाइम हाई प्राइस पर था परन्तु उसके बाद इसमे भी लगातार गिरावट देखने को मिल रही है जिसके कारण अभी बिनांस क्वाइन की कीमत 29 हजार रुपए तक आ चुकी है। दोस्तो इस सबके अलावा और भी क्रिप्टकरेंसी है जिनके प्राइस लगातार गिरते जा रहे हैं और यह कब तक और कितने गितमरने वाले हैं इसके बारे अभी अभी खुलकर कुछ नहीं कहा जा सकता है।

ये भी पढ़े :-

Sharing Is Caring:

Leave a comment